भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त

भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त-

देश में निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव कराने की जिम्मेदारी मुख्य चुनाव आयुक्त की होती है। मुख्य चुनाव आयुक्त की नियुक्ति भारत के राष्ट्रपति द्वारा की जाती है, मुख्य चुनाव आयुक्त लोकतंत्र में कामकाज के लिए और उसे स्थापित करने में  मुख्य भूमिका निभाता है।

मुख्य चुनाव आयुक्त की सबसे बड़ी जिम्मेदारी देश और राज्य में चुनाव की स्वतंत्र और निष्पक्ष प्रक्रिया को आयोजित कराना है। चुनाव की प्रक्रिया को देखने के लिए मुख्य चुनाव आयुक्त के अतिरिक्त दो और चुनाव आयुक्त होते हैं।

 

भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त

 

     क्रम

     नाम

     कार्यकाल

  1. 

सुकुमार सेन

21 मार्च 1950 - 19 दिसंबर 1958

  2.

के. वी. के. सुंदरम

20 दिसंबर 1958 - 30 सितंबर 1967

  3.

एस. पी. सेन वर्मा

01 अक्टूबर 1967 - 30 सितंबर 1972

  4.

डॉ. नागेंद्र सिंह

01 अक्टूबर 1972 - 6 फरवरी 1973

  5.

टी. स्वामीनाथन

07 फरवरी 1973 - 17 जून 1977

  6.

एस.एल. शकधर

18 जून 1977 - 17 जून 1982

  7.

आर. के. त्रिवेदी

18 जून 1982 - 31 दिसंबर 1985

  8.

आर. वी. एस. पेरिशास्त्री

01 जनवरी 1986 - 25 नवंबर 1990

  9.

श्रीमती वी. एस. रमा देवी

26 नवंबर 1990 - 11 दिसंबर 1990

  10.

टी. एन. शेषन

12 दिसंबर 1990 - 11 दिसंबर 1996

  11.

एम. एस. गिल

12 दिसंबर 1996 - 13 जून 2001

  12.

जे. एम. लिंगदोह

14 जून 2001 - 7 फरवरी 2004

  13.

टी. एस. कृष्णमूर्ति

08 फरवरी 2004 - 15 मई 2005

  14.

बी. बी. टंडन

16 मई 2005 - 29 जून 2006

  15.

एन. गोपालस्वामी

30 जून 2006 - 20 अप्रैल 2009

  16.

नवीन चावला

21 अप्रैल 2009 से 29 जुलाई 2010

  17.

एस. वाई. कुरैशी

30 जुलाई 2010 - 10 जून 2012

  18.

वी. एस संपत

11 जून 2012 - 15 जनवरी 2015

  19.

एच. एस. ब्राह्मा

16 जनवरी 2015 - 18 अप्रैल 2015

  20.

डॉ. नसीम जैदी

19 अप्रैल 2015 - 05 जुलाई, 2017

  21.

श्री ए.के. जोति

06 जुलाई, 2017 - 22 जनवरी 2018

  22.

श्री ओम प्रकाश रावत

23 जनवरी 2018 - 01 दिसंबर 2018

  23.

श्री सुनील अरोड़ा

02 दिसंबर 2018 - अब तक