यूपीएससी एग्जाम की जानकारी

युपीएससी (UPSC) क्या है, यूपीएससी एग्जाम की जानकारी-


आज हम आपको भारत की सबसे बड़ी परीक्षा यूपीएससी की परीक्षा के बारे में बताने जा रहे हैं, यूपीएससी की परीक्षा देश की सबसे बड़ी परीक्षा होती है। आईएएस बनने के लिए संघ लोक सेवा आयोग हर साल सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन करता है यूपीएससी को भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में एक माना जाता है हर साल लाखों की संख्या में छात्र इस परीक्षा की तैयारी करते हैं लेकीन सीटे सीमित होने के कारण कुछ ही लोग इस परीक्षा में सफलता अर्जित कर पाते हैं।

यूपीएससी एक केन्द्रीय परीक्षा संस्था है जो अनेक प्रकार की परीक्षाओं का आयोजन करवाती हैं जिनमे से भारतीय सिविल सेवा परीक्षा, इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा, नौसैनिक अकादमी परीक्षा, भारतीय वन सेवा परीक्षा संयुक्त रक्षा सेवा परीक्षा, केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस फोर्स, संयुक्त चिकित्सा सेवा परीक्षा आदि प्रमुख हैं, यूपीएससी द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षा को भारत की सबसे कठिन परीक्षा के रूप में माना जाता है। 

 
यूपीएससी के पास संविधान में और दायित्व भी शामिल हैं पोस्ट और सेवाओं की भर्ती के बारे में सरकार को मदद करना और साक्षात्कार के माध्यम से भर्ती को सम्पन्न कराना, पेंशन जैसे और अन्य मामले यूपीएससी की निगरानी में सम्पन्न होते हैं। यूपीएससी की स्थापना 1 अक्टूबर 1926 को अंग्रेजों के शासन के दौरान हुई थी यूपीएससी का मुख्यालय देश की राजधानी दिल्ली में स्थित है।  

 

यूपीएससी एग्जाम की जानकारी- यदि आपका सपना भी कलेक्टर बनने का है तो आप स्नातक करने के उपरांत सिविल सेवा परीक्षा को दे सकते हैं,  सिविल सेवा परीक्षा तीन स्तरों में सपन्न होती है।  

1.प्रारम्भिक परीक्षा 
2.मुख्य परीक्षा 
3.साक्षात्कार 

 

शैक्षणिक योग्यता-
यूपीएससी की परीक्षा देने के आपका स्नातक होना जरूरी है लेकीन यदि आप स्नातक के अंतिम वर्ष में पढ़ाई कर रहे हैं तो आप इस परीक्षा के लिए फार्म भर सकते हैं। 

 

उम्र सीमा-
1.यूपीएससी का एक्जाम देने के लिए सामान्य वर्ग के छात्रों के लिए उम्र न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 32 वर्ष होनी चाहिए, सामान्य वर्ग के छात्र केवल 6 बार ही यूपीएससी की परीक्षा दे सकते हैं । 
2.अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्रों को तीन वर्ष की छूट मिलती है वें इस परीक्षा को 35 साल तक दे सकते हैं और अधिकतम 9 बार अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र यूपीएससी की परीक्षा में भाग ले सकते हैं। 
3.एससी, एसटी वर्ग के छात्रों को उम्र में 5 वर्ष की छूट प्रदान की जाती है और वें यूपीएससी की परीक्षा को अधिकतम 37 साल दे सकते हैं, इन वर्ग के छात्र जितनी बार चाहे इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं। 

 

यूपीएससी की तैयारी कैसे करें-
यूपीएससी देश का सबसे बड़ा एक्जाम होने के साथ यह देश का सबसे कठिन एक्जाम भी होता है, इस परीक्षा में आपको तगड़ी प्रतिस्पर्धा मिलती हैं कुछ लोग को सालों से इस परीक्षा की तैयारी करते हैं लेकीन उन्हे सफलता नहीं मिलती हैं, इसलिए इस परीक्षा की तैयारी एक बेहतरीन रणनीति के साथ करनी चाहिये। देश में कई सारे कोचिंग संस्थान यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी कराते हैं आप चाहे तो इन कोचिंग संस्थान में जा सकते हैं इन संस्थानों में आपको विधिवत परीक्षा की तैयारी करवाई जाती हैं और आपको अन्य छात्रों के साथ पढ़ने के माहौल भी मिल जाता है, इन संस्थानों में आपको पिछले वर्षों में सम्पन्न हुए यूपीएससी के पेपर और स्टडी मटेरियल उपलब्ध कराए जाते हैं।

 

यूपीएससी की तैयारी के लिए इंटरनेट की मदद भी लेनी चाहिए आप चाहे तो इंटरनेट के माध्यम से अपनी तैयारी और धार दे सकते हैं इंटरनेट के माध्यम से आप पिछले वर्षों में सम्पन्न हुए पेपर, सामान्य ज्ञान, समाचार आदि आसानी से पढ़ सकते हैं। यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए आपको समाचार पत्र पढ़ने की आदत जरूर डालनी चाहिए आप रोजाना हिन्दी और इंग्लिश दोनों प्रकार के अखबारों को जरूर पढे ताकि आप दुनिया में होने वाले घटना क्रम से अपने आप अपडेट रख सके। 

यह भी पढ़ें-